वार्ष्णेय समाज का उद्गम

श्री अक्रूर महिमा
श्री अक्रूर धाम, मथुरा वृन्दावन
अ0 भा0 श्री वैश्य बारहसैनी महासभा (पंजीकृत)
महासभा के विधान की संशोधित नियमावली
संस्थाओं की सम्बद्धता का आवेदन
आजीवन सदस्यता के लिए आवेदन
सम्बन्धित संस्थाये
समाज की पत्रिकायें
वार्ष्णेय समाज के गौरव
वार्ष्णेय चिकित्सीय हेल्प लाइन
वैवाहिक सेवा
महासभा की गतिविधियाँ
मुख्य पृष्ठ
सम्पर्क सूत्र

चुनाव कार्यक्रम श्री अक्रूर धाम,मथुरा वृन्दावन

श्री अक्रूराय नम:। श्री अक्रूराय नम:।

श्री अक्रूर जी महाराज हमारे इष्ट देव और हम सब उन्ही के वंशज हैं।

आओ, एक बार प्रेम से अपने महान इष्ट देव, भगवान श्री कृष्ण के प्रिय चाचा और श्री अक्रूर जी महाराज को नमन करें। और उनकी जय जयकार बोलें।

श्री वार्ष्णेय मन्दिर, अलीगढ़

श्री पंचमुखी हनुमान, वृन्दावन